मंगलवार, 23 फ़रवरी 2021

फरवरी 2021 से अप्रैल 2021


आलेख
भोरमदेव मंदिर के निर्माता निर्धारण की समस्या : अजय चन्द्रवंशी 
कमलक्षेत्र में पंचकोशी परिक्रमा की परंपरा : संतोष कुमार सोनकर ’ मंडल’ 
शोध आलेख
अलग - अलग वैतरणी : डॉ. अखिलेश कुमार शर्मा 
कहानी
इंदूमति : किशोरीलाल गोस्वामी 
झबलू द जर्मन शेफर्ड डॉग : चन्द्रहास साहू  
मुआवजा : मनीष कुमार सिंह 
फासला : बबीता कुमारी 
व्यंग्य
हांका और आखेट : चार्वाक 
लघुकथा
चंदा अऊ सुरुज : बलदाऊ साहू 
शान्ति :दीप्ति अग्रवाल 
गूँगा : नरेन्द्र उजियाल 
नया नोट : कल्पना मिश्रा 
तीन कपड़े : जी सिंग 
लाचार आँखें : जयन्ति अखिलेश चतुर्वेदी  
गीत / ग़ज़ल / कविता
सुप्रभात : डॉ. प्रेमकुमार पाण्डेय (कविता) 
साथ न लाएं मेरे प्रियतम को : पूनम झा (कविता) 
बड़े दिनों के बाद : रविशंकर पाण्डेय (नवगीत)
मित्र के चले जाने के बाद : जसवीर त्यागी (कविता)
जेकर हाथ मा हावै सियानी : डॉ. बलदाऊ साहू (छत्तीसगढ़ी गीत)
कब तक अइसने लिखबो : राजकुमार मसखरे (छत्तीसगढ़ी कविता) 
स्त्री : ऋतु सिंह (नवगीत)
प्यासी धरती पर : त्रिलोक महावर (कविता ) 
छेरीक छेरा : राजकुमार मसखरे छत्तीसगढ़ी लोकगीत 
सुमीत दहिया की रचनाएँ 
विचारधारा पुराण : हरिकिशोर गोस्वामी (नवगीत)
मुर्दे ने मिट्टी से कहा : सुरेन्द्र कुमार (गीत)
तन्हा रहने को यहां : अरुण धर्मावत (गजल)
कारखाना : मंजूला श्रीवास्तव (कविता)
स्वागत है मधुमास : नज़्म सुभाष (नवगीत)
हम एक हो जाएं : बलदाऊ साहू (गज़ल)
जब माँ मिट्टी हो गई : नरेन्द्र कुमार कुलमित्र (कविता)
मनस्विनी माँ :  विजय कुमार (कविता)
नवगीत : देवेन्द्र कुमार पाठक 
प्रीत धुन शब्दावलि : वीना उपाध्याय (कविता)
यादों में : सुशील यादव (कविता)
गज़ल : सीमा सिंह 
पहचान : दीपा कांडपाल(कविता) 
नवगीत : अशोक सिंह 
पुस्तक समीक्षा